सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दे रहे कला को प्रोत्साहन : गुहा

देखा गया
यूनेस्को इंडिया और बांग्लानाटक डॉट कॉम का संयुक्त वेबीनार आयोजित


मीडिया केसरी डेस्क ✍🏻


जयपुर, 10 जून। दक्षिण एशिया में कला सम्पदा क्षेत्र में सक्षम समुदाय (रेज़ीलियेंट कम्यूनिटी) विकसित करने के उद्देश्य से यूनेस्को इंडिया और बांग्लानाटक डॉट कॉम का संयुक्त वेबीनार ( ऑनलाइन सेमिनार )   'ResiliArt' ' आयोजित किया गया। 
की-नोट स्पीकर एवं  कला साहित्य व पर्यटन विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रेया गुहा ने बताया कि करोना जैसी आपदा से उत्पन्न चुनौतियों का रचनात्मक रूप से मुकाबला करते हुए काम करने के नए नए तरीके इजाद करने होंगे। लॉकडाउन तथा सोशल डिस्टेंसिंग होने की वजह से साल के अंत तक इवेंट तो सम्भव नहीं हो सकते, लेकिन डिजिटल इवेंटस और कनसर्ट् आयोजित किए जा सकते हैं।



 इसी कड़ी में राजस्थान के पारम्परिक लोक कलाकारों के लिए मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना जैसी स्कीम लागू की गई। इसमें कलाकारों ने वीडिओ ईमेल पर अपनी उम्दा पेशकश भेजी,  जिनको विभाग के यू ट्यूब चैनल पर प्रसारित किया गया। इसके द्वारा अधिकतम लोक कलाकारों को वित्तीय सहायता पहुचाई गई।
संगीत के क्षेत्र में ऑनलाइन कंसर्ट भी आयोजित किए गए।
कलाकारों की कला को डिजिटल प्लेटफोर्म पर प्रोत्साहित कर सहायता देने के साथ साथ 15 दिवसीय कला कैम्प आयोजित कर कलाकृतियों को ऑनलाइन प्रदर्शनी आयोजित की गई। 
पर्यटन के क्षेत्र में लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए पर्यटन को बढ़ावा देने का प्रयत्न किया जा रहा है। 

गुहा ने बताया कि इसके साथ ही जून माह की शुरूआत में किलों व संग्रहालयों में प्रवेश निशुल्क कर स्थानीय पर्यटन को प्रोत्साहित किया गया। लोकप्रिय हस्तियों के भ्रमण से लोगो में जागरूकता और विश्वास बनाया जा रहा है।

Post a comment

0 Comments