बारां जिले के इस कस्बे को किया शून्य मोबिलिटी क्षेत्र घोषित

देखा गया

कस्बे की बालाजीपाड़ा बस्ती को किया सील



विशेष संवाददाता:- धर्मेंद्र गुप्ता


किशनगंज- 30 अप्रैल। मेडिकल कॉलेज कोटा में किशनगंज विधानसभा के भंवरगढ़ कस्बा निवासी एक बालिका के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से ही क्षेत्र में हलचल बढ़ गई है कस्बे को जिला प्रशासन द्वारा शून्य मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया जा चुका है।


 चिकित्सा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 25 अप्रैल को मध्य प्रदेश के बड़ौदा से बालिका अपनी एवं भाई के साथ भंवरगढ़ कस्बे में आई थी इसे चिकित्सा विभाग की टीम द्वारा नाहरगढ़ सेंटर भेजा था वहां से बारा एवं बारा से कोटा मेडिकल कॉलेज ले जाया गया था कि आज उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस प्रशासन ने भंवरगढ़ कस्बे की बालाजीपाड़ा बस्ती को पूरी तरह सील कर दिया है यहां बैरिकेट्स लगाकर पुलिस तैनात कर दी दिए बालिका के यहां आने के बाद के संपर्क में आए 4 लोगों के सैंपल चिकित्सा विभाग द्वारा लिए जा चुके हैं चिकित्सा सूत्रों ने बताया कि 25 अप्रैल को बड़ौदा मध्यप्रदेश से बालिका उसकी मां व भाई के साथ भंवरगढ़ आए थी सूचना के बाद चिकित्सा विभाग की टीम ने तीनों को नाहरगढ़ स्थित कोरोनटाइन सेंटर भेजा था वहां से बालिका की तबीयत खराब होने पर बारा जिला चिकित्सालय रैफर किया था जिसे बारां से 26 अप्रैल को सुबह कोटा उपचार के लिए भेजा था  जहां पर बालिका की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना के बाद पुलिस द्वारा कस्बे की बस्ती को सील कर दिया गया वहीं प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग की टीम सर्वे कार्य में जुट गई कस्बे को पूरी तरह जीरो मोबिलिटी घोषित कर दिया गया है कस्बे से लगने वाली सभी सड़क मार्गों को सील किया जा रहा है ग्राम पंचायत द्वारा सैनिटाइजर करवाया जा रहा है।

Post a comment

0 Comments