बीच बस्ती फिर खुला शराब का ठेका, महिलाओं ने आगे आकर किया विरोध प्रदर्शन

देखा गया

तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन



विशेष संवाददाता: हरीश शर्मा


किशनगंज-6 मई। बारां जिले के
किशनगंज कस्बे के कोली मोहल्ला बारां-शाहबाद रोड सड़क किनारे बीच बस्ती में शराब का ठेका खुलने से महिलाओं सहित मोहल्ले के लोगों ने रोष जताया।
ठेके पर लड़ाई झगड़े होने पर महिलाएं आगे आईं और
शराब के ठेके के सामने बैठ कर रोष जताया। काफी समय तक ठेका हटाने की मांग करती रही।
पुलिस को सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस के एएसआई राजेंद्र सिंह पहुँचे।


जानकारी मिलने पर कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी विचार मंच के राजस्थान प्रभारी योगेंद्र बेरवा भी मौके पर पहुंचे।
योगेंद्र बेरवा ने पुलिस प्रशासन से बस्ती से ठेका हटाने के मामले पर चर्चा की।
 बस्ती की महिलाओं, लोगों व राहुल गांधी मंच के राजस्थान प्रभारी योगेंद्र बेरवा ने बताया कि पूर्व में भी यहां शमशान रोड पर ठेका खुला था  जिसको बस्ती के लोगों द्वारा धरना आमरण अनशन करके प्रशासन द्वारा हटाया गया था।
अब नया ठेका होने पर ठेकेदार द्वारा बीच बस्ती बारा शाहबाद सड़क मार्ग के किनारे फिर से खोल दिया गया। इससे मोहल्ले के लोगों को शराबियों के आतंक लड़ाई झगड़ेका शिकार होना पड़ रहा है।
मोहल्ले  में अशांति का वातावरण फिर से पैदा हो गया है।
पुलिस ने मामला प्रशासन का बताते हुए तहसीलदार से वार्ता करने को कहा। इस पर
बस्ती की दर्जनों महिलाएं सोशल डिस्टनसिंग के साथ तहसील कार्यालय पहुंचकर उपखंड अधिकारी तहसीलदार जगमोहन शर्मा को ठेका हटाने के लिए ज्ञापन दिया और शीघ्र ही बस्ती से ठेका हटाने की मांग की गई।
2 दिन पूर्व भी बस्ती के लोगों ने ठेका हटाने की मांग का ज्ञापन तहसीलदार को दिया था।

तहसीलदार जगमोहन शर्मा द्वारा आबकारी अधिकारी से वार्ता करने की बात कही गई।

Post a comment

0 Comments