Baran News-Unique Marriage - कोविड केअर सेंटर में सजा मंडप,दूल्हा-दुल्हन ने PPE kit पहन लिए फेरे-Couple married in PPE kits

देखा गया

जिला व अस्पताल प्रशासन की अनूठी पहल


दिनभर चर्चा का विषय बनी रही शादी



संवाददाता - कुँवर पाल ✍🏻



केलवाड़ा (बारां, राजस्थान)-7 दिसंबर।  हम बचपन से पढ़ते व सुनते आए हैं कि जन्म, मरण, परण सब कुदरत द्वारा  निश्चित है। होनी-अनहोनी को कोई नहीं टाल सकता चाहे वो कोरोना ही क्यों न हो।

जी हाँ... इसी तरह का एक वाकया रविवार को बारां जिले के केलवाड़ा कस्बे में देखने को मिला जब शादी के दिन फेरों से ठीक  7 घंटे पहले खुद दुल्हन एवं उसकी मां  रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गई।  यह जानकर  परिवार वालों रिपोर्ट के होश उड़ गए। वधू-पक्ष ने  केलवाड़ा में वर पक्ष को इस बारे में तुरंत सूचित किया एवं प्रशासन को भी अवगत कराया। 

परिणामस्वरूप एक बार के लिए शादी की सभी रस्में रद्द कर दी गईं। लेकिन जब यह मामला  जिला कलेक्टर इंदरसिंह राव के संज्ञान में आया तो उन्होंने इसके समाधान हेतु अनूठी पहल करते हुए उपखण्ड अधिकारी राहुल मल्होत्रा को निर्देश दिए।


उच्च अधिकारियों के निर्देशो के अनुसार केलवाड़ा के कॉविड केयर सेंटर में पूर्ण गाइड लाइन की पालना करते हुए सादगी से दूल्हा दुल्हन ने पीपीई किट पहनकर सात फेरे लिए। पंडित  ने भी सारे मंत्रोचार पीपीई किट पहनकर ही पढ़े।  वधू के माता पिता ने भी पीपीई किट पहनकर कन्य दान किया और वर वधू को आशीर्वाद प्रदान किया। 


इस अनूठी शादी के गवाह ब्लॉक चिकित्साधिकारी डॉ शेख आरिफ, चिकित्सा प्रभारी डॉ राजेश राजावत, डॉ अमित भारतीय, थानाधिकारी लक्ष्मीचन्द बैरवा, चिकित्सा विभाग की टीम राजेश सिंघल. धर्मेन्द्र बैरागी ,सगीर खान,एवँ अन्य कर्मचारी भी बने।



कस्बे में संपूर्ण दिन रही शादी की चर्चा 

केलवाड़ा कस्बे में इस शादी की चर्चा रही। कस्बेवासी शादी होगी या नहीं होगी इस विषय में चर्चा करते रहे ।आखिरकार प्रशासन ने इस शादी को मंजूरी दी और निश्चित समय पर कोविड केयर सेंटर केलवाड़ा में संपन्न हुई। 

इस बीच कोरोना गाइडलाइन की प्रोटोकॉल का विशेष ध्यान रखा गया।  



चिकित्सा विभाग द्वारा दुल्हन और उसके माता पिता को कोविड केयर सेंटर में रखा गया है। ब्लॉक चिकित्साधिकारी शेख आरिफ ने बताया कि दुल्हन और उसकी माँ ने 4 दिसम्बर को कोविड-19 की जांच करवाई थी जिसकी रिपोर्ट रविवार को पॉजिटिव आई। रिपोर्ट आने की सूचना चिकित्सा विभाग ने दुल्हन के परिजनों को दी। 

जानकारी मिलते ही केलवाड़ा में शाहबाद प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग की बैठक हुई। बैठक में एसडीएम राहुल मल्होत्रा ने जिला प्रशासन से शादी की मंजूरी ली और सरकार की गाइडलाइन एवं प्रोटोकॉल का विशेष ध्यान रखते हुए शादी को संपन्न कराने का निर्णय लिया। उसके बाद केलवाड़ा चिकित्सा विभाग की टीम शादी को कराने के लिए जुट गए। केलवाड़ा थाना अधिकारी लक्ष्मी चंद बेरवा मौके पर मौजूद रहे।


शादी का माहौल हुआ फीका


सरकार की गाइड लाइन के अनुसार सीमित लोगों के लिए दोनों पक्षों की ओर से निमंत्रण दिया गया परंतु जैसे ही दुल्हन के पॉजिटिव होने की सूचना  मेहमानों को मिली तो कुछ मेहमान खाना खाने भी नहीं पहुंचे। वही दूल्हा-दुल्हन और उनके माता पिता के जो सपने थे उनको वो साकार रूप नहीं मिला। दुल्हन पक्ष एवं दूल्हा के माता पिता ने अपने पुत्र पुत्री के लिए जो सपने देखे थे और जो तैयारिया की थी उनके सपनों पर भी पानी फेर दिया यह संपूर्ण शादी जैसे ही  मीडिया में आई तो क्षेत्र में  चर्चा का विषय बन गया जहां देखो  वहां इस शादी की चर्चा शुरू हो गई  ऐसा किसी ने सोचा भी नहीं था की कोविड सेंटर में भी शादी कराई जा सकती है। चिकित्सा विभाग एवं पुलिस प्रशासन को प्रारंभ में ये एक चुनौती लगी परंतु उन्होंने शादी की संपूर्ण तैयारियां कोविड सेंटर में की जहाँ सजे मंडप में शादी संपन्न हुई ।

Post a comment

0 Comments