UP MLC ELECTION 2020-एमएलसी चुनाव के लिए हुआ मतदान, 11 सीटों के लिए 199 प्रत्याशी मैदान में

देखा गया

 सबसे अधिक मतदाताओं वाले जिले प्रयागराज में दोपहर तक 20 फीसदी मतदान


उच्च सदन में बहुमत से दूर सत्तारूढ़ BJP के लिए अहम है ये चुनाव


प्रयागराज से राधेकृष्ण तिवारी ✍🏻


प्रयागराज-1 दिसंबर। उत्तर प्रदेश में मंगलवार को MLC के चुनाव के लिए मतदान सम्पन्न हुआ। 

एमएलसी की 11 सीटों के लिए मतदान हुआ है। प्रदेश की 6 शिक्षक और पाँच स्नातक कोटे की MLC सीट के लिए भाजपा, कांग्रेस,सपा ,  शिक्षक संघों और निर्दलीयों समेत कुल 199 प्रत्याशी अपना भाग्य आज़माने के लिए मैदान में उतरे हैं।

 


 इलाहाबाद-झांसी स्‍नातक खंड चुनाव केेेे ल‍िए  दो बजे तक 23.97 फीसद मतदान हाेे चुका था। सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हुुुुआ। 10 बजे तक मतदान का प्रतिशत कम रहा। स‍िर्फ 3.8 प्रतिशत ही हुआ था। दिन मेें 12 बजे तक 12.18 फीसद मतदान हो चुका था। मतदान के दौरान पुलिस और प्रशासन की तगड़ी व्‍यवस्‍था भी रही।




116 बूथों पर हुआ एमएलसी चुनाव के लिए मतदान


इलाहाबाद झांसी खंड स्नातक निर्वाचन (एमएलसी) चुनाव के लिए मतदान के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए जिले भर के 116 बूथों पर मतदान  कराया गया। मतदान का पहला घंटा शांतिपूर्वक रहा। सुबह मतदान केंद्रों पर बहुत कम वोटर पहुंचे।  इस चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी यज्ञदत्त दत्त शर्मा ने डीएवी इंटर कॉलेज में बने बूथ पर मतदान किया। वहीं सपा प्रत्याशी मान सिंह यादव ने हरभरा में मतदान किया। चुनाव के लिए कुल 46 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इसमें से 22 मतदान केंद्र शहरी क्षेत्र में है।


मतदान केंद्रों की तगड़ी सुरक्षा


मतदान केंद्रों पर कोई गड़बड़ी न हो, इसलिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई । सुरक्षा के लिए 30 क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) बनाई गई है। वहीं संवेदनशील मतदान केंद्रों पर पुलिस के साथ पीएसी की भी तैनाती की गई है। सुरक्षा के लिहाज से जिले को आठ जोन और 24 सेक्टर में बांटा गया है। बूथ के सौ मीटर के दायरे में सुरक्षा कर्मियों के अलावा कोई असलहाधारी प्रवेश नहीं कर सकता है। बूथ के आसपास प्रचार भी प्रतिबंधित रहा। प्रतापगढ़ जिले में भी मतदान हुआ।



कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव का रहा इंतजाम


सुरक्षा के साथ ही कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए भी वहां पर इंतजाम किए गए। अधिकारियों बताया कि मतदान केंद्र के बाहर चूने का गोल घेरा बनाया गया है। 


स्नातक चुनाव के लिए प्रयागराज से नौ, कौशांबी, फतेहपुर, जालौन, झांसी, चित्रकूट से एक-एक और बांदा से दो प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। इस चुनाव के सबसे बड़े मतदाताओं वाले जिले प्रयागराज में 63284 वोटर हैं। वहीं 10 जिलों में कुल 1.70 लाख वोटर हैं।


 बीजेपी के लिए ये चुनाव अहम


सूबे की सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के लिए MLC के ये चुनाव काफी अहम माना जा रहा है क्योंकि उच्च सदन (विधान परिषद) में भाजपा अभी बहुमत से दूर है। यही वजह है कि उच्च सदन में अपना संख्या बल बढ़ाने के लिए भाजपा ने लगभग सभी सीटों पर सीधे तौर पर प्रत्याशी उतारे हैं।

Post a comment

0 Comments