राजस्थान राज्य नर्सेज एसोसिएशन की प्रदेश संयोजक विनीता शेखावत के प्रयास लाए रंग, मंत्री ने स्वास्थ्यकर्मियों को बाँटे पीपीई किट

देखा गया

परिवहन मंत्री ने किया अस्पतालों का दौरा


पीपीई किट के साथ मास्क भी करवाये उपलब्ध


हिमा अग्रवाल


जयपुर:- यह अपने आप मे हैरान कर देने वाली बात है कि वैश्विक महामारी कोराना से जूझ रही जनता की सेवा में दिन-रात लगे अस्पतालों के स्वास्थ्यकर्मी खुद पर्याप्त संसाधनों का अभाव झेल रहे हैं। इनकी समस्या को गंभीरता से समझते हुए राजस्थान राज्य नर्सेज एसोसिएशन की प्रदेश संयोजक विनीता शेखावत ने स्थानीय विधायक व मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास से बात की और स्वास्थ्यकर्मियों की समस्या का समाधान करवाया।


  बुधवार को कोरोना उपचार से संबंधित व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास नेअस्पतालों का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने 200 पीपीई किट चिकित्सकों, नर्सिंग स्टाफ, सफाई कर्मचारियों को दीं। कोरोना वारियर्स से बातचीत करते हुए खाचरियावास ने सभी की हौसलाफजाई की और सभी का सम्मान किया।
मंत्री खाचरियावास ने कांवटिया अस्पताल, जनाना अस्पताल (चांदपोल), सेटेलाइट हॉस्पिटल (बनीपार्क) और टीबी हॉस्पिटल (शास्त्री नगर) का दौरा किया।

चांदपोल स्थित जनाना अस्पताल में कोविड-19 की मशीन का उद्घाटन करते हुए खाचरियावास ने कहा कि जांच करने वाले चिकित्साकर्मी को मरीज के संपर्क में आने की जरूरत नहीं है। वह अपने कैबिन में बैठकर मशीन से मरीजों की जांच करें। इससे वे सुरक्षित भी रहेंगे।
राजस्थान राज्य नर्सेस एसोसिएशन की प्रदेश संयोजक विनीता शेखावत ने कहा कि अस्पताल में संसाधनों की कमी थी। इसके लिए सभी ने खाचरियावास से मुलाकात की और उसके बाद उन्होंने अस्पतालों में मास्क और पीपीई किट दान किए हैं।
 समस्त नर्सिंग स्टाफ ने इसके लिए विनीता शेखावत का आभार व्यक्त किया।

Post a comment

0 Comments