झुन्झुनू सांसद पर लगा बिना सूचना कोरोना वाइरस जांच लैब उद्घाटन का आरोप

देखा गया

सांसद का कोविड-19 में जिले को किसी प्रकार का सहयोग नहीं -सैनी


विशेष संवाददाता: ओमप्रकाश सैनी ✍🏻



झुंझुनूं-15 मई। कोरोना वाइरस जांच के लिए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार द्वारा बीडीके अस्पताल में बनाई गई लैब का उद्घाटन समारोह सुर्खियों में आ गया है। जिसका उद्घाटन बुधवार को भाजपा सांसद नरेंद्र कुमार खीचड़ ने समारोह पूर्वक किया। इसका कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष ताराचंद सैनी ने कड़ा विरोध किया। सैनी ने मीडिया को बताया कि कोविड-19 से लड़ रही जिले की जनता की कोई सहायता नहीं करने वाले सांसद अपनी नाकामियां छुपाने के लिए ऐसे कार्यक्रमों में पहुंच जाते हैं। पीसीआर लेब में राज्य की गहलोत सरकार ने 2.75 करोड़ रुपये की सौगात दी।


सांसद नरेंद्र कुमार ने इसमें एक रुपये का सहयोग नहीं किया। स्वास्थ्य विभाग के कुछ अधिकारी भी सरकार के विरुद्ध काम कर रहे है। जो सरकार के खिलाफ ज्ञापन दे रहे सांसद को बुलाकर यह साबित कर रहे है कि ये लेब सरकार की नहीं निजी है। पीएमओ और सीएमएचओ में कुछ अधिकारी सरकार की नीतियों के खिलाफ काम कर रहे हैं।




जिनकी रिपोर्ट बनाकर संगठन सरकार को भेजेगा। जिले के वर्तमान विधायकों व पूर्व केबिनेट एवं राज्य मंत्रियों को कोरोना जांच लेब के उद्घाटन की सूचना तक नहीं की गई। सैनी ने बताया कि पिछले दिनों अस्पताल के लिए टेंडर प्रक्रिया से ऐसी खरीदी गई,जिसमें भी धांधली की रिपोर्ट आ रही है। संगठन स्तर पर इसे उठाया जाएगा और सरकार से जांच की मांग की जायेगी। सैनी ने भाजपा नेताओं को केवल घोषणा और जनता से झूठे वादे करने वाले बताया। जिले में कोविड-19 से लड़ रहे पुलिस टीम को सुबह-शाम खाना पंहुचाये वाले भाजपा नेता के खाने का काफी दिनों से इंतजार है।

Post a comment

0 Comments