बारां जिला अभिभाषक परिषद के अध्यक्ष एडवोकेट दिलीप सिंह पंवार बने वकीलों के हमदर्द

देखा गया
पचास लाख बीमा करवाए जाने की उठाई मांग



कोटा से - वरिष्ठ पत्रकार एवं एडवोकेट-- अख़्तर खान ✍🏻



बारां जिला अभिभाषक परिषद के अध्यक्ष एडवोकेट दिलीप सिंह पंवार ने कोरोना के खिलाफ इंसाफ की जंग में वकीलों का सरकार द्वारा पचास लाख का बीमा करवाए जाने की मांग उठाई है।
 दिलीप पंवार ने माँग की है कि न्यायिक पैरवी सुनवाई के दौरान प्रतिदिन प्रत्येक वकील को आधे लीटर की सेनेटाइजर की बोतल , कोविड -19 स्टेंडर्ड दो मास्क प्रतिदिन ,हाथों के दस्ताने दो प्रतिदिन ,कोर्ट परिसर का दिन प्रतिदिन सेनेटाइज़ स्प्रे दो बार , हाइड्रोक्लोराइड ,,लिम्सी टेबलेट्स प्रत्येक अधिवक्ता प्रति दिन ,विटामिन डी केप्सूल एक प्रतिदिन राज्य सरकार उपलब्ध करवाए।



 दिलीप पंवार ने इसके अलावा ,सरकार के खर्च पर प्रत्येक अधिवक्ता का पचास लाख का बीमा करवाया जाना सुनिश्चित करने की मांग उठाई है।

आपको बता दें कि एडवोकेट दिलीप पंवार यूँ तो किसी पहचान के मोहताज नहीं है। वे लगातार पांचवी बार बारां जिला अभिभाषक परिषद के निर्वाचित अध्यक्ष है। आखिर कुछ तो खूबियां रही होंगी दिलीप सिंह में, जिसकी वजह से वे एक ही जिला अभिभाषक परिषद में विकट परिस्थितियों के बावजूद भी हर बार निर्वाचित होते रहे हैं।दिलीप पंवार हर वकील के दुःख दर्द ,खुशियों में हमदर्द बनते है ,गवाह बनते है।


पिछले दिनों बार कौंसिल का चुनाव भी इन्होने सिद्धांतो के साथ ,ज़िम्मेदारी से लड़ा, वो बात अलग है कि हाड़ोती के टूट कर बिखर जाने से नतीजे विफल  रहे।,के फिर भी मज़बूती बनी रही। हर दिल अज़ीज़ दिलीप सिंह लोगों के साथ मृदुल व्यवहार , प्यार मोहब्बत ,उनकी मुसीबतों में काम आने का जज़्बा रखते हैं।
प्रतिदिन ये राजस्थान और हिंदुस्तान के नामचीन  वकीलों के जन्म दिन की खुशनुमा बधाइयों वाली पोस्ट के साथ ,सोशल मिडिया के हीरो बनकर उभरते है।
बारां में एक समाज सेवक बहादुर अली ,है जो लाखों लोगों को स्वहस्तलिखित पत्र के माध्यम से बधाई देने का रिकॉर्ड क़ायम कर चुके है ,दूसरे हरदिल अज़ीज़ दिलीप सिंह पंवार एडवोकेट है ,जो अब तक सोशल मिडिया पर डीजटल सालगिरह जश्न के रूप में हज़ारों हज़ार वकील साथियों ,पत्रकारों ,मित्रों के जन्म दिन की बधाई के गवाह बन चुके है ,, दिलीप सिंह पंवार लगातार बारां अभिभाषक परिषद के निर्वाचित अध्यक्ष है जो हाड़ोती की सभी अभिभाषक परिषदों में निर्विवाद निर्वाचन का एक रिकॉर्ड है। दिलीप सिंह पंवार ,वकीलों के दुःख ,दर्द के अलावा खुशियों के कार्यक्रम में भी यथासम्भव शामिल होकर खुशियां बांटते है ,चाहे जयपुर हो ,जोधपुर हो ,बीकानेर हो ,बाड़मेर हो,यह दूरियां इनके लिए बहुत कम है ,यह हर जगह अपने साथियों के साथ नज़र आते  है। राजस्थान बार कौंसिल ,बार कौंसिल ऑफ़ इंडिया को दिलीप पंवार का बारां के लिए दिए गए सुझाव ज्ञापन पत्र को गंभीरता से लेना होगा।
हाइकोर्ट ,सुप्रीमकोर्ट को स्व प्रेरित प्रसंज्ञान लेकर ,केंद्र व राज्य सरकारों को इस मामले में आर्थिक पैकेज के साथ , व्यवस्थाओं के निर्देश भी देना होंगे।

Post a comment

0 Comments