कोरोना खत्म होने तक पांच हजार मासिक आर्थिक सहायता दे राज्य सरकार -सांसद दीयाकुमारी

देखा गया

-मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखा पत्र 


-दैनिक जरूरतों को पूरा करने वाले लोगों के लिए आर्थिक सहायता की मांग



By Desk ✍🏻


जयपुर, 10 मई। सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि कोरोना संकट के चलते आम आदमी की आजीविका पर संकट खड़ा हो गया है।
राष्ट्रव्यापी लॉक डॉउन की वजह से घर का मुखिया घर में ही कैद रहने पर मजबूर हो गया है, ऐसी स्थिति में अपना व अपने परिवार का पेट भरना ही मुश्किल हो गया है। परिस्थिति की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार को तुरंत प्रभाव से ऐसे परिवारों को पांच हजार रुपये मासिक आर्थिक सहायता करनी चाहिए।



मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखे पत्र में सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि कोरोना महामारी के इस संकट में दैनिक जीवन की सामान्य जरूरतों को पूरा करने वाले लोगों की आजीविका पर संकट आ गया है।

 https://youtu.be/oWa5XYyHWW4

जैसे नाई, धोबी, मोची, फूल पत्ती का कार्य करने वाले बागवान, पर्यटन व्यवसाय से जुडे गाईड, ऑटो टेक्सी ड्राइवर, हैंडिकाफ्ट से जुड़े व्यक्ति, पर्यटकों के मनोरंजन से जुडे लोगों सहित ऐसे ही अनेक क्षेत्र के लोग और उनके परिवार है जिनकी आज उदर पूर्ति होना मुश्किल हो गया है। ऐसे जरूरतमंद लोगों के लिए राज्य सरकार प्रत्येक परिवार को 5-5 हजार रूपए प्रतिमाह सहायता राशि के रूप तब तक प्रदान करें जब तक कि इस संकट से छुटकारा नहीं मिल जाए

Post a comment

0 Comments