राज्य सरकार की योजनाओं को लागू करने का रोल मॉडल है नसीराबाद का बालिका विद्यालय -कच्छावा

देखा गया

संदर्भ: विद्यालय में पोषाहार वितरण



नसीराबाद / डॉ.मनोज आहूजा✍🏻



कोविड-19 के कारण हुए लॉक डाउन से छूट मिलते ही राजस्थान की गहलोत सरकार ने प्रदेश के सभी वर्गों को लाभ देने के आदेश जारी कर दिए थे।इसी आदेश की पालना में राजकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले जिन बालक बालिकाओं को पोषाहार का लाभ नहीं मिल सका।उनको लाभ देने की भावना से शिक्षा विभाग द्वारा भी आदेश जारी किया गया।उक्त आदेशों की पालना में कक्षा 1 से 7वीं कक्षा के विद्यार्थियों को लॉक डाउन के दौरान जो पोषाहार नहीं मिला उसके एवज में उन्हें गेँहू व चावल बांटने की प्रक्रिया राजस्थान के सभी विद्यालयों में शुरू की गई है।


उक्त आदेश की पालना विद्यालयों में ठीक से हो रही है या नहीं,इसको देखने के लिए शनिवार को जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय अजमेर के देवी सिंह कच्छावा एवं अजय कुमार गुप्ता सहायक निदेशक मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले के कई विद्यालयों का निरीक्षण किया।


इसी प्रकार निरीक्षण करते हुए नसीराबाद के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में पहुंचे और खाद्यान्न सुरक्षा योजना का आकस्मिक निरीक्षण किया।निरीक्षण के दौरान उन्होंने स्टॉक रजिस्टर, बालिकाओं के अभिभावकों को दिए जाने वाले गेंहू व चावल का वजन किया।मौके पर उपस्थित शिक्षिकाओं व अभिभावकों द्वारा सरकारी एडवाइजरी की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।अभिभावकों से पूछताछ की।सारी व्यवस्थाओं से संतुष्ट होने के बाद कच्छावा ने प्रेस वार्ता में कहा कि उक्त विद्यालय राजस्थान सरकार की योजनाओं को बेहतरीन ढंग से लागू करने का एक रोल मॉडल के रूप में माना जा सकता है।
विद्यालय की प्राचार्या सुनीता यादव,पोषाहार प्रभारी मधु गोयल द्वारा जो व्यवस्थाएं की गई थी उन व्यवस्थाओं की उक्त दोनों अधिकारियों ने प्रशंसा की।विद्यालय की प्राचार्या सुनीता यादव ने बताया कि जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा उक्त योजना के तहत लाभार्थियों को 94 दिन का गेहूं व चावल बांटने का आदेश प्राप्त हुआ था।जिस आदेश की जानकारी लाभार्थियों को देने हेतु विद्यालय की व्याख्याता चंद्रावती तेजवानी,प्रीति मिश्र,वीरेंद्र सिंह गुर्जर के जिम्मे की गई जिन्होंने व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से तथा स्थानीय विद्यालय की शिक्षिका बीना गोयल व कनिष्ठ लिपिक सुरेश गर्ग के माध्यम से घर घर जाकर दी।विद्यालय की पोषाहार प्रभारी मधु गोयल व्याख्याता ने जानकारी दी कि जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा जारी आदेश की पालना में दिनांक 19 व 20 जून को विद्यालय की कुल 431 छात्राओं को गेंहू व चावल वितरित किया गया जिसमें पंकज बाकोलिया अध्यापक व अंजुला माथुर,चित्रा तंवर अध्यापिकाओं का विशेष सहयोग रहा।

Post a comment

0 Comments