गहलोत मंत्रिमंडल विस्तार - सात सीटें काँग्रेस की झोली में डालने वाला सीकर क्या अपना इतिहास दोहरा पायेगा..?

देखा गया

संदर्भ-  गहलोत मंत्रिमंडल का विस्तार शीघ्र




राजस्थान विधानसभा में सीकर की 8 सीटों में से 7 सीटें कांग्रेस की झोली में डालने वाला सीकर  अपना पुराना इतिहास दोहरा पायेगा ये तो आने वाले समय ही बता पाएगा।

 मुख्यमत्री अशोक गहलोत की पिछली सरकार में सीकर जिले को इतिहास का सबसे अच्छा प्रतिनिधित्व मिला था जिसमें श्रीमाधोपुर से दीपेन्द्र सिंह शेखावत विधानसभा अध्यक्ष,सीकर से राजेन्द्र पारीक सरकार में दूसरे नबर की हैसियत रखने वाले उद्योग व आबकारी मत्रीं,नियुक्तियो में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वरिष्ठ विधायक नारायण सिंह किसान आयोग के अध्यक्ष,पूर्व कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष परसराम मोरदिया आवास मण्डल के अध्यक्ष के तौर पर अपनी भूमिका निभा चुके हैं।



 मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चाओं के बीच सीकर के दो वरिष्ठ विधायको का मुख्यमंत्री से मिलना सियासी गलियारो में अहम मुकाम रखता है।

अब देखना ये होगा कि क्या गहलोत फिर से इतिहास दोहरायेगें..?? 



     LED Ring Light for Camera, Makeup, tiktok with Foldable Tripod

सूत्रों की माने तो मन्त्रिमण्डल विस्तार में सीकर को दो मंत्री मिलना तय माना जा रहा है, जिसमें कांग्रेस कोटे से परसराम मोरदिया और निर्दलीय कोटे से विधायक काग्रेसी समर्थक गहलोत के नजदीकी पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री महादेव सिंह खण्डेला माने जा रहे हैं।


 हालांकि चर्चाऔ के बीच पूर्व उद्योग मंत्री राजेन्द्र पारीक भी  अपनी मौजूदगी दर्ज करवा रहे हैं।


 आपको बता दें कि फिलहाल सरकार में सीकर जिले से एक मात्र विधायक शिक्षा मत्रीं गोविंद सिंह डोटासरा ही प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। अब ये भविष्य के गर्भ में है कि गहलोत अपनी टीम में सीकर जिले से कितने मंत्री और कितनी नियुक्ति देते हैं।
 हालांकि सूत्रों से ये भी पता चला है कि जिले को मुख्यमंत्री गहलोत मौजूदा मंत्री सहित तीन मंत्री और एक नियुक्ति दे सकते हैं

मो जावेद रंगरेज

सीकर

Post a comment

0 Comments