293 वें जयपुर स्थापना दिवस पर ग्रेटर और हैरिटेज महापौर ने प्रथम पूज्य मोतीडूंगरी गणेश मंदिर और गंगापोल गेट पर पूजा कर शहर की समृद्वि के लिये की प्रार्थना

देखा गया

गुलाबी नगरी की पहचान को बरकरार रखेगेः- मुनेश गुर्जर


गुलाबी नगरी में करौली के गुलाबी पत्थर के शिलालेख स्थापित किये जायेगेेः- डाॅ. सौम्या गुर्जर


मीडिया केसरी वेब डेस्क ✍🏻



जयपुर, 18 नवम्बर। जयपुर के 293वें स्थापना दिवस पर महापौर नगर निगम ग्रेटर जयपुर डाॅ. सौम्या गुर्जर और महापौर जयपुर हैरिटेज मुनेश गुर्जर ने बुधवार को मोतीडूंगरी गणेश मंदिर और गंगापोल पर प्रथम पूज्य गणेश  जी की पूजा अर्चना कर शहरवासियों के सुख, शांति एवं प्रगति के लिये प्रार्थना की। महापौर ग्रेटर एवं हैरिटेज, सांसद रामचरण बोहरा एवं अन्य अतिथियों ने मोती डूंगरी गणेश मंदिर पहुंचकर पूर्ण विधि विधान से गणेश जी की पूजा अर्चना की और जयपुर स्थापना दिवस पर उनको आमंत्रित किया।



इसके बाद दोनों महापौर अन्य अतिथियों के साथ गंगापोल गेट पहुंची। यहां पहुंचकर अतिथियों ने गंगापोल द्वार पर स्थित गणेश प्रतिमा की पूजा की एवं जयपुर की सुख एवं समृद्धि की कामना की। गौरतलब है कि गंगापोल गेट की स्थापना जयपुर शहर की स्थापना के साथ ही की गई थी और परंम्परा के अनुसार प्रथम द्वार पर स्थित गणेश जी की विषेष पूजा की जाती है।


मीडिया से मुखातिब होते हुये महापौर डाॅ. सौम्या गुर्जर ने कहा कि जयपुर अपनी वास्तुकला और स्थापत्य के लिये विश्व में अपनी विशेष पहचान रखता है। नगर निगम ग्रेटर क्षेत्र में स्थित ऐतिहासिक मंदिरों/इमारतों तथा पार्को में करौली के गुलाबी पत्थर के शिलालेख स्थापित करवाये जायेगे। इन शिलालेखों पर सम्बन्धित धरोहरों के इतिहास को उकेरा जायेगा ताकि आमजन विशेषकर युवा पीढ़ी एवं जयपुर आने वाले पावणों को जयपुर के समृद्व इतिहास से परिचित करवाया जा सके।


Blankets On Amazon : नर्म और मुलायम Blanket एक हजार रुपए से भी कम में खरीदें


For more details, please click on the image below-

  


वहीं महापौर मुनेश गुर्जर ने मीडिया को सम्बोधित करते हुये कहा कि गुलाबी नगरी की जो पहचान है उसे बरकरार रखा जायेगा। हैरिटेज को बरकरार रखते हुये विकास करवाया जायेगा। विश्व स्तर पर जयपुर की जो पहचान है उसे और समृद्व करने के लिये सफाई व्यवस्था को और मजबूत किया जायेगा

 इससे पूर्व दोनों महापौरों ने कहा कि मिलकर जयपुर को हर क्षेत्र में एक बनायेगे।

Post a comment

0 Comments