NGO Social Services- महर्षि मार्कण्डेय सुश्रुत सेवा संस्थान द्वारा जरूरतमंद परिवार की बेटी के विवाह मे किया गया सहयोग

देखा गया

मानव सेवा ही माधव सेवा है -  नीतीश कुमार शर्मा


मीडिया केसरी वेबडेस्क ✍🏻


जयपुर-16 दिसंबर। "महर्षि मार्कण्डेय सुश्रुत सेवा सँस्थान" जयपुर के द्वारा पुनः एक और जरूरतमंद परिवार की बेटी के विवाह में भोजन सहित गृहस्थी का सभी आवश्यक सामान (जो हर माता पिता कन्यादान में उपहार स्वरूप अपनी बेटी को देने की चाह रखते है) जैसे अलमारी ,पलँग, बक्सा, सिलाई मशीन, कूलर,वॉशिंग मशीन, फ्रिज, किचन सैट, बाथरूम सैट, कपड़े , रजाई ,गद्दे ,तकिया, चादर ,मिक्सी, प्रैस ,कुर्सी टेबल आदि सामान सँस्थान द्वारा परिवार को उपलब्ध करवाकर बेटी के विवाह में सहयोग किया गया!


 इस समस्त सेवा कार्य के दौरान सँस्थान ने परिवार की पहचान को गुप्त रखते हुए सहयोग करने का निश्चय किया है क्योंकि वर्तमान में संस्थानों की कार्यशैली जिसमें काम करने से ज्यादा काम के प्रचार प्रसार करने का चलन हो चुका है जिसके चलते जरूरतमंद परिवार अपने हालातो से ज्यादा सँस्थान के द्वारा दी जाने वाली सेवा के साथ किये गये व्यवहार से प्रताड़ित होते है अगर ऐसा ही चलता रहा तो भविष्य में कोई भी जरूरतमंद जरूरत होने के बावजूद संस्थानों से मदद मांगने से कतराने लगेेंगे! इस माहौल में एक निस्वार्थ पहल "महर्षि मार्कण्डेय सुश्रुत सेवा सँस्थान" द्वारा पूर्व में करवाये गए विवाह के साथ शुरू की गई उसी चलन को बरकरार रखते हुए सँस्थान ने पुनः एक बेटी के विवाह में सहयोग किया। 


बदलते सीजन के साथ कपड़ों से लेकर एक्सेसरीज व अन्य सामान  किफ़ायती कीमत पर खरीदें- Amazon Wardrobe Refresh Sale में-


 ऑर्डर करने के लिए नीचे दी गई Image पर Click करें-


सँस्थान के संस्थापक  नीतीश कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में सँस्थान के अध्य्क्ष डॉ मनोहर मालवीय, सचिव रोहित व्यास भूपेंद्र चौधरी, कोषाध्यक्ष सरिता मित्तल,महिमा दत्त शर्मा ,अंशुल मित्तल ,प्रियंका शर्मा, सतीश कुमार शर्मा , धर्मन्द्र राठौड़ , श्वेता राठौड़ सुरेंद्र गौड़ , कैलाश साहू ,लीला साहू , सुनील शर्मा, प्रियंका शर्मा ,किशोर सिंह सोलंकी(संस्थान मीडिया प्रभारी)गुलाबी रावत मोहन सिंह ,आशा रावत , सौरभ पारीक , ज्योति आदि कार्यकर्ताओ के सहयोग से परिवार के हिन्दू रीति-रिवाज़ों एवं संस्कृति के अनुरूप विवाह करवाया गया, "इस विवाह में एक खास बात यह रही कि फेरों में वधु के माता पिता के साथ स्वयं संस्थान के संस्थापक नीतीश कुमार शर्मा ने भी कन्या दान का संकल्प लिया ।" भविष्य में अधिकाधिक जरूरतमंद परिवारों की बेटियों के विवाह में सहयोग करने की भी बात कही।

"महर्षि मार्कण्डेय सुश्रुत सेवा संस्थान" का आधार समाज,और देश दुनिया के परोपकार व उन्नति मानव सेवा के लिये समर्पित है! संस्थान चिकित्सा , शिक्षा व कृषि क्षेत्र में तो कार्यरत है ही,साथ ही अन्य क्षेत्रो में भी (चाहे वो कोई भी हो) कार्यरत रहेती हैं। क्योंकि संस्थान "मानव सेवा ही माधव सेवा है में विश्वास रखता है।"

Post a comment

0 Comments