Unique wedding ceremony- Nagpur में होगा अनूठा विवाह, गृहमंत्री अनिल देशमुख पिता के रूप में करेंगे मानस पुत्री का 'कन्यादान' (मानस कन्येचा विवाह, गृहमंत्री झाले `वधू` पिता तर जिल्हाधिकारी `वर` पिता)

देखा गया

जिलाधिकारी निभाएंगे दूल्हे के पिता की भूमिका

जिलाधिकारी की पत्नी ज्योत्स्ना ठाकरे अपने घर कर रही हैं वर-वधु के स्वागत की तैयारी


मीडिया केसरी संवाददाता- सारा पुरी ✍🏻


मुंबई- 18 दिसंबर। आगामी 20 दिसंबर को  नागपुर एक अनोखे व अनूठे विवाह समारोह का गवाह बनने जा रहा है।

जी हाँ... महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख  एक ऐसी युवती का कन्यादान करेंगे जो जन्म से ही मूक-बधिर है। वहीं दूसरी ओर इस युवती के वर के पिता की भूमिका  जिलाधिकारी निभाएंगे।यह विवाह राजनीतिक एवं प्रशासनिक वर्ग के लिए एक आदर्श साबित हो सकता है।


 आपको बता दें कि इन वर व बधू का बचपन से लालन-पालन समाजसेवक शंकरबाबा पापडकर (Social worker Shankarbaba Papadkar) ने किया है। ये बच्ची उन्हें  23 साल पहले नागपुर रेलवे स्टेशन पर लावारिस हालत में मिली थी। इस बच्ची को पिता के रूप में इन्होंने अपना नाम दिया। वर्षा शंकरबाबा पापडकर जब 6 साल की हुई तब उन्होंने मूक बधिर स्कूल में उसका नाम दर्ज करवाया। इसी तरह वर जिसका नाम समीर है, वो इन्हें डोंबिवली में लावारिस मिला था। समीर को भी शंकरबाबा पापडकर ने अपना नाम दिया। दोनों को आत्मनिर्भर बनाया। 


आप चाहें कितने ही महँगे फैशनेबल ड्रेस पहन लें.. Accessories के बिना लुक अधूरा सा लगता है...  तो आईये-- Amazon Wardrobe Refresh Sale 2020 से 80% की भारी छूट पर खरीदें मनपसंद ट्रेंडी एक्सेसरीज-- 

 
नीचे दी गई Image पर click करें और खरीदें-- 


दिलचस्प बात यह है कि गृहमंत्री देशमुख के नागपुर स्थित आवास पर विवाह की तैयारी उनकी बहु रिध्दी देशमुख कर रही हैं। इसी तरह नागपुर जिलाधिकारी आवास में जिलाधिकारी की पत्नी ज्योत्स्ना ठाकरे वर-वधु के स्वागत की तैयारी कर रही हैं। उन्होंने दोनों को जिलाधिकारी आवास पर आमंत्रित किया है। विवाह समारोह पुलिस लाइन नागपुर के पास सीआईडी कार्यालय के सामने  ‘सदभावना लॉन’ में 20 दिसंबर को शाम 5 बजे से होना है। विवाह कार्यक्रम में कोरोना गाईडलाइन का  पालन किया जाएगा।

Post a comment

0 Comments