Health Care-coronavirus--कोविड पॉजिटिव कैंसर पेशेंट इन बातों का रखें विशेष ध्यान !

देखा गया

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में कैंसर रोगी गंभीर लक्षण होने पर बगैर देरी हॉस्पिटल में हों भर्ती


Media Kesari Digital Desk ✍🏻


जयपुर-24 अप्रैल। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि कोरोना संक्रमण (corona outbreak) की दूसरी लहर अपने चरम पर चल रही है। ऐसे में कैंसर रोगियों को अपना विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता  है।

 भगवान महावीर कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर जयपुर (BMCHRC Jaipur) के कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ ताराचंद गुप्ता (Dr Tarachand Gupta) ने बताया कि वह कैंसर रोगी जिनका वर्तमान में कैंसर का उपचार चल रहा है अगर वह कोरोना संक्रमित (Covid Positive Cancer Patients) हो जाते हैं तो वह अपने कैंसर उपचार के बारे में अपने चिकित्सक से सलाह लें। इसके साथ ही कोेरोना का उपचार दे रहे चिकित्सक से सम्पर्क कर उपचार की शुरूआत करें। कोरोना उपचार पूर्ण होने के बाद दोबारा कैंसर चिकित्सक से सम्पर्क करें। 



इन बातों का रखें विशेष ध्यान 


डॉ गुप्ता ने बताया कि कोरोना संक्रमण के अगर कोई गंभीर लक्षण नहीं है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। इस स्थिति में होम आइसोलेशन(home isolation) की प्रक्रिया को अपनाए। दिन में दो बार ऑक्सीजन लेवल और बुखार की जांच करें। ऑक्सीजन लेवल 90 से कम और तापमान 100 से अधिक हो तो तुरंत चिकित्सक से परामर्श लें। गंभीर लक्षण होने पर बगैर देरी के चिकित्सालय में भर्ती हो। होम आइसोलेशन के दौरान भी साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें। ताजा और पोष्टिक भोजन का ही सेवन करें। खाने में विटामिन-सी और तरल पदार्थ का सेवन ज्यादा करें।  





कोविड वैक्सीन से घबराए नहीं 


कैंसर पेशेंट भी बिना डरे अपने चिकित्सक की सलाह के साथ कोविड वैक्सीन लगवाए। कीमो और रेडिएशन थैरेपी के दौरान भी अगर ब्लड काउंटस नॉर्मल हो तो  वैक्सीन लगवा सकते है । 

   जिन रोगियों की हाल ही में सर्जरी हुई है, वह दो से तीन सप्ताह के बाद रिकवरी होने पर ही यह वैक्सीन लगवा सकेंगे। जिन रोगियों का ब्लड कैंसर का उपचार चल रहा है, उन रोगियों के ब्लड काउंट कम हो तो ब्लड काउंट नॉर्मल स्थिति में होने के बाद ही वैक्सीन लगवाए। जिन रोगियों में बोन मेरा ट्रांसप्लांट किया गया है वह रोगी ट्रांसप्लांट के तीन माह तक यह वैक्सीन नही लगावा सकते है।

Post a comment

0 Comments